NIOS क्या है? NIOS Board से जुड़े कुछ जरुरी सवाल जवाब।

0

National Institute of Open Schooling (NIOS), जिसका पहले नाम था National Open School इस नाम को सन् 2002 में बदल दिया गया था। यह भारत सरकार के तहत एक शिक्षा बोर्ड है। यह सन् 1989 में भारत सरकार के मानव संसाधन विकास मंत्रालय द्वारा स्थापित किया गया था। NIOS की स्थापना साक्षरता बढ़ाने, flexible learning को आगे बढ़ाने के उद्देश्य से किया गया था।

NIOS एक राष्ट्रीय बोर्ड है। जो CBSE और CISCE जैसे open schools की secondary और senior secondary परीक्षाओं के लिए साक्षरता बढ़ाने और ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों को शिक्षा प्रदान करने के लिए परीक्षा आयोजित करता है।

2004 से 2009 तक secondary और senior secondary स्तर पर लगभग 1.5 million students का संचयी नामांकन हुआ और सालाना लगभग 350,000 छात्र नामांकित हुए जो इसे दुनिया का सबसे बड़ा open schooling system बनाता है।

nios kya hai

National Institute of Open Schooling Development Path

NIOS दुनिया की सबसे बड़ी ओपन स्कूल प्रणाली है। आज के समय में, लगभग 2.71 million छात्र शिक्षा के विभिन्न स्तरों पर NIOS के साथ नामांकन करते हैं। इसमें 5 departments, एक उप-क्षेत्रीय केंद्र, 20 क्षेत्रीय केंद्र और 6500 से अधिक study centres और भारत में लगभग 1500 vocational centre के साथ-साथ विदेशों का व्यापक नेटवर्क है।

Types of Courses Offered by NIOS?

NIOS हमे पाँच तरह के courses offer करता है, जो open education programme पर आधारित होते है।

1. OBE (Open Basic Education):

Open basic education NIOS द्वारा आयोजित किया गया है, ये learners को basic education provide करने के लिए बनाया गया था। इस education का motto है “सर्व शिक्षा अभियान”. यह प्राथमिक शिक्षा कार्यक्रम किसी भी अन्य नियमित संबद्ध औपचारिक स्कूलों के बराबर है।

  • OBE “A” Level Course : यह कोर्स Class III के समान है।
  • OBE “B” Level Course : यह कोर्स Class V के समान है।
  • OBE “C” Level Course : यह कोर्स Class VIII के समान है।

2. Secondary Course :

यह कोर्स Class X के समान है। NIOS इस Course को 9 क्षेत्रीय भाषाओं में प्रदान करता है; अंग्रेजी, हिंदी, उर्दू, मराठी, तमिल, तेलुगु, गुजराती, मलयालम और ओडिया। इस कोर्स में 28 subjects शामिल हैं जिनमें से 17 language subject हैं। छात्रों को 2 language subjects के साथ न्यूनतम 5 core subjects का selection करना होता है। यह कोर्स 2-5 साल की अवधि के बीच पूरा किया जा सकता है।

3. Senior Secondary Course :

यह course class XII के समान है। यह कोर्स छह क्षेत्रीय भाषाओं में प्रदान किया जाता है : अंग्रेजी, हिंदी, बंगाली, गुजराती, उर्दू और ओडिया। इस कोर्स में 29 subjects शामिल हैं जिनमें से 9 language subjects हैं। इस course में छात्रों को 2 language subjects के साथ न्यूनतम 5 core subjects का selection करना होता है। यह कोर्स 2-5 साल की अवधि के बीच पूरा किया जा सकता है।

4. Vocational Education Courses :

NIOS इन Basic और secondary courses के साथ-साथ विभिन्न vocational courses भी प्रदान करता है। इसका उद्देश्य कृषि और पशुपालन जैसे विभिन्न क्षेत्रों में कुछ skills के बारे में छात्रों को पढ़ाना है; Business, Accounts और Commerce, IT and Technology; Engineering और Architecture, Health और Paramedical Science, Home Science, HospitalityManagement programsTeacher Training and much more. यहाँ 100 से अधिक प्रकार के vocational courses हैै । जिसे student अपने interest के according चुुुन सकते है।

5. Life Enrichment Programmes:

ये NIOS द्वारा woman empowermant, योग और ध्यान, भारतीय संगीत और ज्ञान के संवर्धन जैसे क्षेत्रों में अपने छात्रों को knowledge provide करने के लिए offer किए गए courses हैं। इन courses को certified examination courses के रूप में भी आयोजित किया जा सकता है।

NIOS Board Examination Procedure

NIOS सार्वजनिक परीक्षा साल में दो बार आयोजित की जाती है, पहली बार April और May के महीने में और दूसरी बार October और November के महीने के दौरान institute द्वारा announced किये गए दिनांक पत्र के अनुसार। students केवल उन subjects में secondary और senior secondary स्तर की परीक्षा में उपस्थित हो सकते हैं, जिन्हें वे अपने course में चुनते है। Exam के 6 weeks के बाद इसके result घोषित कर दिए जाते है। NIOS की सभी जानकारी के लिए आप इसकी वेबसाइट पर visit कर सकते है।

How to Get Admissions for Secondary and Sr. Secondary

NIOS में admission लेने के लिए students online भी apply कर सकते है। आपको केवल इन steps को follow करने की जरूरत है।

  • आप NIOS की official वेबसाइट nios.ac.in पर जा सकते हैं और direct admission, ऑनलाइन प्राप्त कर सकते हैं।
  • या फिर आप पास के study centre, cyber cafe या AI (मान्यता केंद्र) पर जा सकते हैं और उन्हें online admission करने के लिए आपकी सहायता के लिए कह सकते हैं।
  • इसके अलावा आप पास के क्षेत्रीय केंद्रों में online admission भी प्राप्त कर सकते हैं।
  • साथ ही students NIOS में online admission प्राप्त करने के लिए भारत सरकार के सामान्य सेवा केंद्र (CSC’s) से भी सहायता प्राप्त कर सकते हैं।

इंटरनेट का उपयोग करके Course fee जमा करने के बाद सभी study material students के घर पर पहुंचाई जाएगी क्योंकि यह worldwide study करने के लिए एक संपूर्ण ऑनलाइन solution है। तो आपको fees जमा कराने के बाद books की कोई tension नहीं होगी, आप अपने घर पर इसे पढ़ सकते है।

Also Read:

Advantages of Choosing NIOS

  • जब भी आपकी पढ़ाई ready हों और आप exam के लिए तैयार हों, तो परीक्षा देने की अनुमति देता है।
  • परीक्षा के लिए एक निश्चित समय और अनुसूची तैयार की जाती है।
  • विफलता की संभावना कम है, क्योंकि आप अपनी सुविधा के अनुसार बेहतर तैयारी कर सकते हैं।
  • Results अगले महीने में तुरंत घोषित कर दिए जाते हैं।
  • प्रत्येक व्यक्ति के लिए प्रत्येक question paper होता है, जिससे कदाचार / दुर्व्यवहार की संभावना कम होती है।
अगर आपका NIOS को लेकर कोई भी सवाल हो तो comment box के जरिये हम तक पहुचाये, हम जल्द ही आपके सवाल का हल निकाल के देंगे। साथ ही इस पोस्ट को share करके अपने दोस्तों को भी NIOS के बारे में बताये।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.